ह्रुदयरोग के हमले के समय क्या करना?